फिर जसप्रीत बुमराह के शिकार बने विराट कोहली

l197 6391601270598

ऐसा अक्सर नहीं होता है कि कोई गेंदबाज क्रिकेट के उच्च स्तर पर बहुत लंबे समय तक एक निश्चित बल्लेबाज पर हावी रहता है। कोचिंग में हुए प्रगति के साथ, बल्लेबाज क्रिकेट के नियमों के साथ अधिक सुरक्षित होते हैं और अपने समग्र दृष्टिकोण में अधिक आक्रामक होते हैं, गेंदबाजों को आम तौर पर प्रारूप बदलने पर कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। लेकिन वे अभी भी क्रिकेट मैचों में द्विपक्षीय प्रतिद्वंद्विता कर रहे हैं जो खेल को पहले से भी अधिक दिलचस्प बना देता है।

हालांकि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी तरह के दो सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों का सामना करना संभव नहीं है, लेकिन यह इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) टूर्नामेंट ही है, जो उन्हें एक-दूसरे के खिलाफ खड़ा करता है, जिसमें हर खिलाड़ी तो सबसे कठिन परीक्षा में शामिल होना पड़ता है, जो कि वे आमतौर पर एक साथ खेलते हुए नहीं महसूस कर पाते हैं।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के मद्देनजर आप किसी से भी पूछ ले कि विराट कोहली हर प्रारूप में कितने खतरनाक हैं और घातक जसप्रीत बुमराह ने अपने छोटे लेकिन अभी तक के करियर में कितनी सफलता हासिल की है। जबकि ये दोनों भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे बड़े खिलाड़ियों में से एक है, लेकिन यह केवल आईपीएल में है कि हमें सबसे तेज गेंदबाजों में से एक के खिलाफ सबसे महान बल्लेबाजों के बीच प्रतिद्वंद्विता देखने को मिलती है।

दो भारतीय टीम के खिलाड़ी शुक्रवार रात चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में शुरुआती मैच में एक-दूसरे के खिलाफ थे, जब कोहली पांच बार के आईपीएल विजेता मुंबई इंडियंस के खिलाफ रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की कप्तानी कर रहे थे। बुमराह लंबे समय से मुंबई इंडियंस के प्रमुख खिलाड़ी रहे हैं ।

जबकि ये दोनों खिलाड़ी आईपीएल में नियमित चेहरे रहे हैं, यह प्रतिद्वंद्विता है जो आरसीबी और मुंबई इंडियंस के बीच मुकाबला करती है और देखने में और भी दिलचस्प होता है। जैसा कि रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु आईपीएल 14 के शुरुआती मैच में शुक्रवार रात एक जीत के लिए चेज कर रहा था, उनके कप्तान कोहली एक छोर से टीम की बागडोर संभाले थे क्योंकि उन्हें नॉन- स्ट्राइकिंग एंड से ज्यादा समर्थन नहीं मिला था।

आरसीबी के लिए पहली बार पारी की शुरुआत करते हुए, कोहली आक्रामकता के साथ लेकिन संभलकर खेल रहे थे। आरसीबी के कप्तान ने 33 रन बनाए थे, जब बुमराह ने कोहली को शॉर्ट गेंद फेंकी, जिससे उन्हें मिडविकेट एरिया में जाने का मौका मिला। हालांकि, कोहली शॉट से चूक गए और गेंद को हवा में भेज दिया जिसके बाद उन्हें आउट होकर पवेलियन जाना पड़ा। कोहली ने 29 गेंदों में 33 रन बनाए जिसमें चार चौके भी शामिल है।

यह चौथी बार था, जब बुमराह ने कोहली को आउट किया। हालांकि इन दो आईपीएल टीमों के फैंस के लिए एक यादगार पल था और साथ ही भारतीय क्रिकेट टीम के फैंस के लिए भी जिन्होंने अपने दो सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों को एक-दूसरे के खिलाफ खेलते हुए देखा गया।

Comments

0